मीडिया सेंटर मीडिया सेंटर

टी सी एस ने यू. के. के ‘फ्रेण्ड्स लाइफ’ से 2.2 बिलियन अ. डॉलर का आपूर्ति आदेश प्राप्त किया

नवम्बर 10, 2011

वाल स्ट्रीट जर्नल : केनन मैकाडो एवं धान्या अन्न थोपिल

भारत की टाटा परामर्शदात्री सेवायें लि. ने बुधवार को कहा था कि इसने 2.2 बिलियन अ. डॉलर (1.37 बिलियन जी बी पी) का वाह्य स्रोतीय अनुबंध प्राप्त किया है, जो अब तक का सबसे विशालतम् आपूर्ति आदेश है और यू. के. आधारित वित्तीय सेवा कम्पनी ‘फ्रेण्ड्स लाइफ' से प्राप्त हुआ है।

15-वर्षों का आदेश एक ऐसे समय में प्राप्त हुआ है जब भारतीय प्रौद्योगिकी वाह्य स्रोतीय कम्पनियां आर्थिक मंदी के भय के कारण पश्चिमी बाजारों में व्यवसाय के संकुचन को दर्शा रही हैं। कई बिलियन अ. डॉलर के सौदे से वाह्य स्रोतीय बाजारों में सौदे के आकार के संकुचन का उद्योग में भय भी कम हुआ है और टी सी एस के कुछ प्रतिद्वन्द्वियों में विषमता अवस्थित है, जो ग्राहकों द्वारा व्यय करने के निर्णय में विलम्ब की शिकायत कर रहे थे।

राजस्व की दृष्टि से भारत की एक विशालतम् प्रौद्योगिकी कंपनी टी सी एस ने ताजे सौदे में 2.5 बिलियन अ. ड़ॉलर का एक बहुत बड़ा अनुबंध सिटी बैंक इंक. से वर्ष, 2008 में प्राप्त किया था, जो संयुक्त राज्य मेजर के भारत-आधारित बैक ऑफिस शाखा की साफ्टवेयर कम्पनी के अर्जन का एक हिस्सा था।

टी सी एस ने कहा था कि यह यू. के. बीमा और पेंशन सेवा वाह्य स्रोतीय शाखा ‘डीलीजेन्टा' के साथ मिल कर पेंशन, निवेश एवं बीमा सेवा प्रदान करने वाली एक कम्पनी ‘फ्रेन्ड्स लाइफ' के ग्राहकों को प्रौद्योगिकी, मौलिक ढ़ांचा एवं सेवाऐं प्रदान करेंगे।

मार्च, 2012 से प्रभाव में आने वाले इस सौदे के समाचार ने उन निवेशकों में एक विश्वसनीयता का बीज बो दिया है जो उसके सशक्त वृद्धि गति को बनाये रखने के लिए भारतीय साफ्टवेयर निर्याताओं की क्षमता के प्रति सशंकित थे। टी सी एस के शेयर, मुम्बई के बाजार में 1.8% की बढ़त प्राप्त करते हुए 1,123.00 रुपये पर पहुँचे थे जो अब गिर कर 1.2% पर आ गये हैं।

टी सी एस के मुख्य कार्य पालक अधिकारी श्री एन चन्द्रशेखरन ने कहा था कि उन्हें अपेक्षा है कि इस सौदे से कम्पनी राजस्व के अपने हिस्से में लक्षित वृद्धि के एक कदम और निकट पहुँचेगी, जो एक ऐसे कार्य से प्राप्त हो रहा है जिसका संख्या बल से प्रत्यक्ष सम्बंध नहीं है, जो वर्तमान में 10% से भी कम है।

टी सी एस, ग्राहकों से अपने साफ्टवेयर मंच से हुए प्रत्येक सौदे पर आधारित शुल्क वसूल करेगी।

कम्पनी, ‘फ्रेन्ड्स लाइफ' की 3.2 मिलियन पॉलिसी और ‘फ्रेन्ड्स लाइफ' के सम्पूर्ण यू. के. में कार्यरत लगभग 1,900 कर्मियों के प्रशासनिक दायित्वों का भार भी ग्रहण करेगी जिसे ‘डीलीजेन्टा' द्वारा इसे अपने वर्तमान रोजगार शर्तों के अन्तर्गत हस्तांतरित किया जायेगा।

टी सी एस जीवन बीमा और पेंशन के क्षेत्र में वर्ष, 2005 में पर्ल समूह के जी बी पी 486 मिलियन अ. ड़ॉलर का वाह्य स्रोत का अनुबंध प्राप्त करने के साथ किया था, जिसका अधिग्रहण इसने यू. के. में संचालित जीवन बीमा एवं पेंशन कम्पनी से किया था। तभी से टी सी एस ने अनेकों अनुबंध प्राप्त किए हैं और अपने प्रशासनाधीन पॉलिसी की संख्या को आठ मिलियन तक पहुँचा दिया है।

टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code