मीडिया सेंटर मीडिया सेंटर

'भारत, अमेरिका साझेदारी से 21वीं सदी को मिलेगा आकार'

जुलाई 22, 2015

विज़न न्यूज़ ऑफ़ इंडिया भारत और अमेरिका के बीच घनिष्ठ सहयोग से 21वीं सदी को आकार मिल सकता है, जिसका वैश्विक शांति और समृद्धि पर एक बड़ा असर होगा। ये विचार भारत और अमेरिकी के राजदूतों ने एक-दूसरे देशों की राजधानियों में व्यक्त किए हैं।

अमेरिका में भारत के राजदूत अरुण सिंह और भारत में अमेरिकी राजदूत रिचर्ड वर्मा ने सोमवार को यहां प्रकाशित एक संयुक्त आलेख में कहा है, "चूंकि अमेरिका-भारत संबंध लगातार मजबूत हो रहे हैं, लिहाजा 21वीं सदी की हमारी निर्णायक साझेदारी की वास्तिवक परीक्षा यह होगी कि यह न सिर्फ हमारे आम नागरिकों को कितना लाभ पहुचाती है, बल्कि वैश्विक समुदाय के लिए भी कितना लाभकारी होती है।"

दोनों राजनयिकों ने समाचार पत्र 'हफिंगटन पोस्ट' में 'इंडिया एंड द यूएस पार्टनरिंग टू शेप द 21 सेंचुरी' शीर्षक से प्रकाशित एक ऑप-एड में कहा है, "सच्चाई यह है कि जब हम साथ काम करते हैं तो हम अधिक मजबूत बन जाते हैं और आगामी वर्षो में हमारे घनिष्ठ सहयोग से वैश्विक शांति और समृद्धि पर व्यापक प्रभाव पड़ सकता है।"

यह आलेख भारत-अमेरिका असैन्य परमाणु करार की दसवीं वर्षगांठ पर लिखा गया है, जिसमें कहा गया है कि किस तरह से आपसी विश्वास के आधार पर दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंध एक रणनीतिक साझेदारी में तब्दील हुए..............[आगे पढ़े ]

)
टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code