मीडिया सेंटर मीडिया सेंटर

आतंकवाद के खिलाफ भारत-ऑस्ट्रेलिया संयुक्त कार्य समूह की 13वीं बैठक की संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति

मई 05, 2022

आतंकवाद के खिलाफ भारत-ऑस्ट्रेलिया संयुक्त कार्य समूह की 13वीं बैठक 4 मई, 2022 को कैनबरा, ऑस्ट्रेलिया में वैयक्तिक रूप से आयोजित की गई थी। श्री महावीर सिंघवी, भारत के विदेश मंत्रालय में काउन्टर टैरोरिज़म विभाग के संयुक्त सचिव और ऑस्ट्रेलिया के विदेश मामलों और व्यापार विभाग में काउन्टर टैरोरिज़म विभाग के राजदूत श्री रोजर नोबल ने दोनों देशों के बीच चल रहे आतंकवाद विरोधी सहयोग पर चर्चा करने के लिए विशेषज्ञों के संबंधित प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया।

2. दोनों पक्षों ने भारत-ऑस्ट्रेलिया व्यापक रणनीतिक साझेदारी के इस महत्वपूर्ण तत्व पर समन्वय और सहयोग करने की अपनी प्रतिबद्धता को रेखांकित किया।

3. भारत और ऑस्ट्रेलिया ने आतंकवाद के सभी रूपों और अभिव्यक्तियों की कड़ी निंदा की और आतंकवाद का व्यापक और निरंतर तरीके से मुकाबला करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को मजबूत करने की आवश्यकता पर जोर दिया। दोनों पक्षों ने सीमा पार आतंकवाद के लिए आतंकवादी प्रॉक्सी के इस्तेमाल की निंदा की।

4. भारत और ऑस्ट्रेलिया ने सभी देशों के लिए तत्काल, निरंतर, सत्यापन योग्य और अपरिवर्तनीय कार्रवाई करने की तत्काल आवश्यकता को रेखांकित किया ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि उनके नियंत्रण में किसी भी क्षेत्र का उपयोग आतंकवादी हमलों के लिए नहीं किया जाता है और ऐसे हमलों के अपराधियों पर शीघ्रता से न्याय प्रक्रिया होनी चाहिये। ऑस्ट्रेलिया ने 26/11 के मुंबई, पठानकोट और पुलवामा हमलों सहित भारत में आतंकवादी हमलों की निंदा को दोहराया, और आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक लड़ाई में भारत के लोगों और सरकार के लिए अपना समर्थन दोहराया।

5. भारत और ऑस्ट्रेलिया ने आतंकवाद से निपटने के क्षेत्र में सहयोग के विभिन्न क्षेत्रों पर विचारों का आदान-प्रदान किया, जिसमें कट्टरपंथीकरण और हिंसक उग्रवाद का मुकाबला करना शामिल है; आतंकवाद के वित्तपोषण का मुकाबला करना; आतंकवाद का मुकाबला करने के लिए एक उपकरण के रूप में आतंकवादी व्यक्तियों और संस्थाओं का प्रोस्क्रिप्टेशन; आतंकवाद के लिए इंटरनेट के शोषण को रोकना; कानून प्रवर्तन सहयोग; सूचना साझा करना और क्षमता निर्माण।

6. दोनों पक्षों ने इन चुनौतियों का सामना करने के लिए मिलकर काम करने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराई और आतंकवाद से निपटने के क्षेत्र में बातचीत, सहयोग और सूचना साझा करने को आगे बढ़ाने के लिए अपनी संबंधित समकक्ष एजेंसियों के बीच संबंधों को गहरा करने के तरीकों पर चर्चा की।

7. दोनों पक्षों ने बहुपक्षीय मंचों जैसे संयुक्त राष्ट्र, जी-20, जीसीटीएफ, एआरएफ, आईओआरए और एफएटीएफ के साथ-साथ क्वाड भागीदारों के साथ-साथ आतंकवाद विरोधी सहयोग और इस सहयोग को और बढ़ाने के तरीकों पर भी चर्चा की। ऑस्ट्रेलिया अक्टूबर 2022 में अगले क्वाड काउंटर-टेररिज्म टेबलटॉप अभ्यास में भारत की मेजबानी करने के लिए उत्सुक है, जबकि भारत ने नई दिल्ली में प्रस्तावित नो मनी फॉर टेरर कॉन्फ्रेंस में ऑस्ट्रेलिया की भागीदारी का स्वागत किया, जिसे 2022 के अंत में निर्धारित किया गया है।

कैनबरा
मई 04, 2022

Comments
टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code