लोक राजनय लोक राजनय

भारत - अरब राष्‍ट्र लीग उद्घाटन मीडिया संगोष्‍ठी (21 अगस्त 2014)

अगस्त 19, 2014

पहली भारत - अरब राष्‍ट्र लीग मीडिया संगोष्‍ठी जो दोनों पक्षों से वरिष्‍ठ अधिकारियों, पत्रकारों एवं संपादकों को एक मंच पर लाएगी, का आयोजन नई दिल्‍ली में 21 अगस्त 2014 को हेगा। विदेश मंत्री 21 अगस्त 2014 को 10:00 बजे जवाहरलाल नेहरू भवन, विदेश मंत्रालय, नई दिल्‍ली में इस संगोष्‍ठी का उद्घाटन करेंगी।

यह संगोष्‍ठी मीडिया के क्षेत्र में भारत - अरब लीग की समझ एवं मैत्री को बढ़ावा देगी और सभी स्‍तरों पर एवं विभिन्‍न रूपों में द्विपक्षीय सहयोग एवं आदान - प्रदान को प्रोत्‍साहित करेगी। दोनों पक्ष अपने - अपने मीडिया संस्‍थापनों के बीच सहयोग को बढ़ावा देने तथा बातचीत बढ़ाने के लिए मीडिया के विभिन्‍न रूपों का प्रयोग करने, सहायता की पेशकश करने और पत्रकारों के लिए सुविधा प्रदान करने के तरीकों पर भी चर्चा करेंगे। यह फोरम अरब देशों एवं भारत के बीच आर्थिक एवं वाणिज्यिक संबंधों को बढ़ावा देने के मीडिया के प्रयोग पर भी विचार - विमर्श का आयोजन करेगा।

यह संगोष्‍ठी दिसंबर 2013 में हस्‍ताक्षरित भारत और अरब लीग के बीच नए सहयोग ज्ञापन (एम ओ सी) से उत्‍पन्‍न हुई है। अरब राज्‍य लीग (एल ए एस) के 21 सदस्‍यों के साथ अपनी भागीदारी को बढ़ाने के अंग के रूप में भारत और एल ए एस ने पिछले साल के उत्‍तरार्ध में 2014-15 के लिए निर्धारित भारत - अरब सहयोग फोरम पर संलग्‍न कार्यकारी कार्यक्रम (ई पी) के साथ एम ओ सी पर हस्‍ताक्षर किया। भारत एवं अरब जगत में मीडिया की भूमिका के महत्‍व को स्‍वीकार करते हुए तथा हमारे मीडिया संगठनों एवं पत्रकारों के बीच गहन एवं अधिक सार्थक बातचीत को बढ़ावा देने के उद्देश्‍य से इस ई पी ने विशिष्‍ट प्रस्‍तावों को शामिल किया जिसमें मीडिया क्षेत्र में सहयोग सुदृढ़ करने के लिए मीडिया संगोस्‍ठी शामिल है।

मीडिया संगोस्‍ठी में 16 अरब लीग राज्‍यों के पत्रकारों एवं मीडिया से जुड़ी वरिष्‍ठ हस्तियों, अरब लीग सचिवालय, कैरो के 4 अधिकारियों के साथ ही प्रसार भारती के सी ई ओ सहित भारतीय मीडिया की 18 मशहूर हस्तियां भाग लेंगी। तीन सत्रों में फैली चर्चा के तहत निम्‍नलिखित 3 विषय शामिल होंगे – ‘अरब एवं भारतीय जनता के लिए मीडिया का उपयोग और मीडिया मैत्री में वृद्धि, सूचना के स्‍वतंत्र आदान - प्रदान को बढ़ावा देना तथा अरब एवं भारतीय मीडिया के प्रयोगों की समीक्षा और अंतत: भारत एवं अरब देशों के बीच मीडिया सहयोग की गुंजाइश’।



टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code
केन्द्र बिन्दु में
यह भी देखें