मीडिया सेंटर मीडिया सेंटर

प्रश्न संख्या 3700 भारत-संयुक्त अरब अमीरात संबंध

जुलाई 25, 2019

राज्‍य सभा
अतारांकित प्रश्न संख्या 3700
दिनांक 25.07.2019 को उत्‍तर देने के लिए

भारत-संयुक्त अरब अमीरात संबंध

3700. श्री संजय सिंहः

क्या विदेश मंत्री यह बताने की कृपा करेंगे कि:

(क) भारत-संयुक्त अरब अमीरात संबंधों की वर्तमान स्थिति क्या है;

(ख) क्या शेख अब्दुल्ला बिन जायेद के साथ मुलाकात से दोनों राष्ट्रों के संबंधों में बदलाव आएगा;

(ग) यदि हां, तो तत्संबंधी ब्यौरा क्या है; और

(घ) अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में कार्रवाई हेतु योजनाओं का ब्यौरा क्या है?

उत्तर
विदेश राज्य मंत्री
(श्री वी. मुरलीधरन)

(क) से (ग) भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच द्विपक्षीय संबंध सदियों पुराने कारोबारी एवं सांस्कृतिक रिश्तों पर आधारित है और दोनों देशों के लोगों के आपसी संबंधों ने इन रिश्तों को सींचा है। पिछले पाँच वर्षों में गहन उच्चस्तरीय बातचीत के परिणामस्वरूप यह संबंध 'व्यापक रणनीतिक भागीदारी’ के स्तर तक पहुँच गया है। संयुक्त अरब अमीरात भारत का तीसरा सबसे बड़ा कारोबारी साझेदार और चौथा सबसे बड़ा ऊर्जा आपूर्तिकर्ता देश है। संयुक्त अरब अमीरात सबसे पहला देश है जिसने भारत के 'रणनीतिक पेट्रोलियम भंडार’ कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री महामहिम शेख अब्दुल्ला बिन जायेद ने 7-9 जुलाई, 2019 तक भारत की आधिकारिक यात्रा की। अपनी यात्रा के दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री से मुलाकात की और विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर के साथ द्विपक्षीय बैठक की। इस यात्रा से दोनों पक्षों को व्यापक रणनीतिक भागीदारी की भावी योजना का रचनात्मक लाभ उठाने और परस्पर हित के विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने का अवसर प्राप्त हुआ।

(घ) भारत और संयुक्त अरब अमीरात ने फरवरी 2016 में दक्षिण-दक्षिण सहयोग में अपनी रुचि दिखाई। अफ्रीका में विकास परियोजनाओं में सहयोग करने के लिए भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच दिसंबर 2018 में एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

*****

टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code


यह भी देखें