यात्रायें यात्रायें

प्रधानमंत्री की बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ द्विपक्षीय बैठक

मार्च 27, 2021

आज 27 मार्च को, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और प्रधान मंत्री शेख हसीना ने अलग से और फिर प्रतिनिधिमंडल स्तर पर व्यापक चर्चा की। उन्होंने 1971 की विरासत को संरक्षित करने, व्यापार, वाणिज्य और संपर्क, जल संसाधनों में सहयोग, सुरक्षा और रक्षा सहयोग, बिजली और ऊर्जा सहित विभिन्न क्षेत्रों में प्रगति का जायजा लिया । दोनों प्रधानमंत्रियों ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, बिग डेटा, फिन टेक और परमाणु ऊर्जा के सामाजिक अनुप्रयोगों जैसे नए क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग को भी प्रोत्साहित किया । दोनों देशों के बीच युवा आदान-प्रदान को बढ़ावा देने पर सहमति बनी। प्रधानमंत्री मोदी ने बांग्लादेश के 50 युवा उद्यमियों को भारत में स्टार्ट अप और नवाचार पारिस्थितिकी प्रणालियों से जुड़ने और उद्यम पूंजीपतियों से मिलने के लिए भारत आने का निमंत्रण दिया।

दिल्ली विश्वविद्यालय में एक बंगबंधु चेयर की स्थापना, बांग्लादेशी छात्रों और अधिकारियों के लिए 1000 "सुबर्णो जयंती छात्रवृत्ति" की भारतीय पेशकश, इस विशेष वर्ष में शाधीनोता शोरोक खोलने तथा 19 देशों में संयुक्त स्मृती कार्यक्रमों को आयोजित करने जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

दोनों प्रधानमंत्रियों ने इस महत्वपूर्ण अवसर पर अपने-अपने देशों द्वारा जारी डाक टिकटों का संयुक्त रूप से अनावरण किया । दोनों पक्ष 06 दिसंबर को "मैत्री दिवस" के रूप में मनाने पर सहमत हुए, जिस दिन भारत ने औपचारिक रूप से बांग्लादेश को मान्यता दी थी। प्रधानमंत्री ने बांग्लादेश के मुक्ति संग्राम में भारतीय सैनिकों के योगदान को मान्यता देते हुए बांग्लादेश (आशुगंज, ब्राह्मणबरिया) में युद्ध स्मारक तैयार करने के लिए प्रधानमंत्री शेख हसीना को धन्यवाद दिया।

दोनों प्रधानमंत्रियों ने रूपपुर विद्युत निकासी परियोजना के कुल 8 में से पांच पैकेजों का शिलान्यास, कुठीबाड़ी में 3 सीमा हाट और रवीन्द्र भवन सुविधाओं का उद्घाटन भी किया । लोगों के बीच संपर्क को और मजबूत करने के लिए दोनों पक्षों ने हाल ही में बहाल 1965 से पहले के चिल्हाटी हल्दीबाड़ी रेल लिंक पर न्यू जलपाईगुड़ी और ढाका के बीच एक पैसेंजर ट्रेन- मिताली एक्सप्रेस चलाने पर भी सहमति जताई है।

स्वास्थ्य क्षेत्र में सहयोग को मजबूत करने और बांग्लादेश द्वारा इंगित आवश्यकताओं के आधार पर, भारत ने बांग्लादेश को 109 लाइफ सपोर्ट एम्बुलेंस के उपहार देने की घोषणा की। प्रधान मंत्री मोदी ने प्रधान मंत्री शेख हसीना को पहली एम्बुलेंस की चाबी सौंपी। प्रधानमंत्री शेख हसीना ने प्रधानमंत्री को 102 लाख टीके सौंपने के लिए धन्यवाद दिया, जिसमें से 32 लाख टीके उपहार स्वरूप में बांग्लादेश के लोगों को दिए गए।

दोनों देशों के बीच आपदा प्रबंधन, व्यापार सुधारात्मक उपाय, विकास परियोजनाओं और एनसीसी पर पांच (05) समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए गए।

सहयोग के क्षेत्रों को रेखांकित करते हुए एक विस्तृत संयुक्त वक्तव्य जारी किया गया है जिसे https://www.mea.gov.in/bilateral-documents.htm?dtl/33746/ पर देखा जा सकता है ।

ढाका
मार्च 27, 2021


Page Feedback

टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code