यात्रायें यात्रायें

विदेश मंत्री का सेशेल्स दौरा (27-28 नवंबर, 2020)

नवम्बर 28, 2020

भारत के विदेश मंत्री, डॉ. एस जयशंकर का आज सेशेल्स का दो दिवसीय आधिकारिक दौरा संपन्न हुआ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक व्यक्तिगत संदेश को साथ ले जाना इस बात का संकेत देता है कि भारत सेशेल्स के साथ अपने संबंधों को कितना महत्व देता है। अपने दौरे के दौरान, उन्होंने 27 नवंबर, 2020 को स्टेट हाउस में महामहिम राष्ट्रपति वेवेल रामकलवान से मुलाकात की। विदेश मंत्री ने अपने समकक्ष, सेशेल्स के विदेश एवं पर्यटन मंत्री, महामहिम श्री सिल्वेस्टर राडेगोंडे के साथ भी बातचीत की।

राष्ट्रपति के साथ अपनी मुलाकात के दौरान, विदेश मंत्री ने भारत सरकार और लोगों की ओर से, राष्ट्रपति रामकलावन को उनकी हालिया चुनावी जीत के लिए बधाई दी। उन्होंने जनवरी 2018 में अपनी भारत यात्रा को याद किया और विश्वास व्यक्त किया कि उनके नेतृत्व में दोनों देशों के बीच घनिष्ठ संबंध और भी मज़बूत होंगे। उन्होंने भारतीय नेतृत्व की ओर से सेशेल्स के राष्ट्रपति रामकलावन को 2021 में भारत आने का न्योता दिया है।

मुलाकात के दौरान, विदेश मंत्री तथा राष्ट्रपति ने लोकतंत्र और कानून के शासन के मूल्यों में साझा विश्वास के जरिए मजबूत किए गए ऐतिहासिक पड़ोसी संबंधों पर चर्चा की। विदेश मंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि भारत-सेशेल्स के बीच कोविड के बाद के दौर में रणनीतिक साझेदारी बढ़ाने के लिए भारत कृत-संकल्पित है । उन्होंने भारत के एसएजीएआर (SAGAR) दृष्टिकोण (क्षेत्र में सभी के लिए सुरक्षा एवं विकास) के तहत सेशेल्स की केंद्रीयता पर चर्चा की जो हिंद महासागर क्षेत्र के प्रति भारत की नीति की विशेषता है। समुद्री पड़ोसी होने के नाते, सेशेल्स 'पड़ोस पहले' वाली नीति का अहम हिस्सा है।

राष्ट्रपति रामकलावन ने महामारी के संकटकाल में चिकित्सा आपूर्ति तथा महत्वपूर्ण दवाओं के रूप में भारत द्वारा प्रदान की गई सहायता की सराहना की। उन्होंने दोनों देशों के बीच विकास एवं सुरक्षा साझेदारी को महत्व दिया तथा सेशेल्स में राष्ट्र निर्माण पर इसके सकारात्मक प्रभाव पर बातचीत की। विदेश मंत्री ने सेशल्स के हितों और आकांक्षाओं का समर्थन करने तथा इस सहयोग को और अधिक मज़बूत करने के लिए भारत की प्रतिबद्धता पर जोर दिया।

चर्चाओं ने द्विपक्षीय सहयोग को आगे बढ़ाने एवं मज़बूत करने तथा कोविड-19 महामारी द्वारा उत्पन्न चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए आपसी समन्वय और सहयोग की आवश्यकता को रेखांकित किया। उन्होंने समुद्री पारिस्थितिकी तंत्र की रक्षा करते हुए मादक पदार्थों की तस्करी, आईयूयू मछली पकड़ने, समुद्री डकैती तथा जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए साझा प्रयासों को मजबूत करने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने क्षेत्रीय मुद्दों पर भी विस्तार से बातचीत की जो उनके संबंधित हितों पर प्रभाव डालते हैं।

विदेश मंत्री ने सेशेल्स के विदेश मंत्री के साथ मंत्रिस्तरीय वार्ता भी की। दोनों मंत्रियों ने विकास, साझेदारी, क्षमता निर्माण, रक्षा सहयोग, लोगों के आपसी और सांस्कृतिक संबंधों, व्यापार, पर्यटन और वाणिज्य, साथ ही स्वास्थ्य सहित द्विपक्षीय संबंधों के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की।

विक्टोरिया
नवंबर 28, 2020


Page Feedback

टिप्पणियाँ

टिप्पणी पोस्ट करें

  • नाम *
    ई - मेल *
  • आपकी टिप्पणी लिखें *
  • सत्यापन कोड * Verification Code